menubar

breaking news

Friday, July 7, 2017

प्रभारी मंत्री रीता बहुगुणा जोशाी ने कहा - अधिक से अधिक वृक्ष लगाकर पर्यावरण को बचायें

जौनपुर। मंत्री महिला कल्याण, परिवार कल्याण, मातृ एवं शिशु कल्याण एवं पर्यटन उ.प्र. प्रो. रीता बहुगुणा जोशी निरीक्षण भवन जौनपुर से 10.55 बजे चलकर सलोनी महिमापुर में 5 हेक्टेयर में 5500 वृक्षारोपण  कार्यक्रम में भाग लिया। मंत्री द्वारा सर्वप्रथम हरिशंकरी (पीपल, पाकड़,बरगद), विधायक जफराबाद हरेन्द्र प्रताप सिंह, सांसद जौनपुर के.पी0सिंह, जिलाधिकारी सर्वज्ञराम मिश्र, जिलाध्यक्ष भाजपा सुशील उपाध्याय ने पं0 दीन दयाल उपाध्याय स्मृति उपवन में वृक्षारोपण किया। तदोपरान्त दीप प्रज्वलित कर सरस्वती जी के चित्र पर माल्यार्पण किया, वृक्षारोपण से सम्बन्धित गोष्ठी मे प्रतिभाग किया। प्राथमिक विद्यालय सलोनी महिमापुर के बच्चों द्वारा सरस्वती वन्दना प्रस्तुत किया गया। जिलाधिकारी,डीएफओ, सीडीओ, वन रेन्जरों एवं खण्ड शिक्षाधिकारियों द्वारा अतिथियों को बुकें देकर स्वागत किया गया। 
डीएफओ ए0पी0 पाठक ने बताया कि वन विभाग एवं जिले के आठ अन्य विभागों द्वारा कुल 6.70 लाख पौधरोपण का लक्ष्य पूर्ण किया जा रहा है। इसके लिए 21 पौधशालाओं से 1238687 पौधे तैयार किये गये हैं। विधायक जफराबाद ने मंत्री का स्वागत करते हुए वृक्षारोपण की महत्ता के बारे में बताया। सांसद जौनपुर के0पी सिंह ने वृक्षारोपण के महत्व के बारे में बताया कि शास्त्रों में वृक्षों के महत्व के बारे में आदिकाल से विस्तृत उल्लेख है। 
प्रभारी मंत्री रीता बहुगुणा जोशाी ने सुन्दर ढंग से वृक्षारोपण कार्यक्रम कराने के लिए जिलाधिकारी सहित अन्यअधिकारियों को बधाई दिया। उन्होंने कहा कि वृक्षों से सुन्दर वायु, अधिक से अधिक आक्सीजन तथा लकड़ी आदि के काम आता है। विश्व में भारत दस देशों में आता है। उ0प्र0 में 2.50 लाख वर्ग किमी वन क्षेत्र है। उन्होंने सभी जनप्रतिनिधियों, जौनपुर वासियों से अपील किया है कि अधिक से अधिक वृक्ष लगाकर पर्यावरण को बचायें। 
पूरे जुलाई माह तक वृक्षारोपण अभियान चलेगा। उन्होंने बताया कि 32 साल तक मैने भी इलाहाबाद विश्वविद्यालय में छात्र/छात्राओं को पढ़ाया है। उन्होंने बताया कि मैंने राजनीति के बावजूद भी कभी बच्चों का क्लास नही छोड़ा। उन्होंने अध्यापको से अपील किया कि वे स्वयं तो अच्छे बन गये हैं। बच्चों को अच्छी शिक्षा देकर उनका भी जीवन सवारे। उन्होंने अपील किया कि छात्र/छात्राओं को बराबरी का हक दें तथा उन्हें पढ़ाने व आगे बढ़ाने में योगदान करें। हम सबकी नैतिक जिम्मेदारी है कि जिले के ऐतिहासिक एवं राजनैतिक महत्व को बढ़ाने में योगदान करें। उन्होंने जिले में जिले के कानून व्यवस्था एवं विकास कार्य में विशेष कार्य कर जिले का नाम प्रदेश में आगे बढ़ायें। 
कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए जिलाधिकारी सर्वज्ञराम मिश्र ने बताया कि वृक्षों का हमारे जीवन में बहुत ही महत्व है। गांव में पीपल एवं नीम की पूजा की जाती है। जिलाधिकारी ने प्रभारी मंत्री को आश्वासन दिया कि आपके संरक्षण में जौनपुर जिले का विकास प्रदेश में प्रथम स्थान पर रहेगा। अतिथियों द्वारा विद्यालय के बच्चों को स्कूल ड्रेस एवं पाठ्यपुस्तकों का वितरण किया गया। सभी 6 तहसीलों के लिए स्कूल चलो अभियान रथ को हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया।इस अवसर पर पूर्व विधायक बांकेलाल सोनकर, जिलाध्यक्ष सुशील उपाध्याय, महामंत्री पुष्पराज सिंह, राजेश श्रीवास्तव (बच्चा भइया), सीडीओ शीतला प्रसाद, अपर पुलिस अधीक्षक नगर डा0 अनिल कुमार पाण्डेय, उप जिलाधिकारी सदर प्रियंका प्रियदर्शिनी,सीवीओ डा0 विरेन्द्र सिंह, डीडीओ दयाराम, पीओ डूडा एम.पी.सिंह, भूमि संरक्षण  अधिकारी प्रथम ओंकार सिंह, द्वितीय सुग्रीव वर्मा,डीएसओ अजय प्रताप सिंह, खण्ड विकास अधिकारी करंजाकला ज्योति मौर्या सहित खण्ड शिक्षा अधिकारी एवं वन रेन्जर आदि उपस्थित रहे।

No comments:

Post a Comment