menubar

breaking news

Saturday, July 8, 2017

जीएसटी से पहले के स्टॉक पर नई एमआरपी अगर नहीं की चस्पा तो मिलेगी जुर्माना व जेल की सजा - केंद्र सरकार

नई दिल्ली। जीएसटी के तहत घटी कीमतों का फायदा ग्राहक तक पहुँचाने के लिए केंद्र सरकार ने कमर कस ली है। इसके तहत जीएसटी से पहले के स्टॉक पर अगर नई दरों के स्टिकर चस्पा नहीं किये गए तो उत्पादक पर एक लाख रूपये तक का जुर्माना लगाया जा सकता है। यहां तक की उसे एक साल तक जेल में भी रहना पड़ सकता है। 
सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार उपभोक्ता मामले के मंत्री राम विलास पासवान ने कहा है कि पहली बार इस नियम का उल्लंघन करने वालों को 25 हजार रूपये का जुर्माना, दूसरी बार के लिए 50 हजार का जुर्माना व तीसरी बार के लिए एक लाख रूपये का जुर्माना फिर एक साल की जेल का प्रावधान किया गया है। मैन्यूफैक्चरों को नए एमआरपी के साथ 30 सितम्बर तक अपने स्टॉक को ख़त्म करने का समय दिया गया है।
सूत्रों की मानें तो पासवान ने कहा है कि उपभोक्ता मामले को लेकर मंत्रालय ने जीएसटी से सम्बंधित मामलों को सुलझाने के लिए एक कमेटी की गठन किया है। यह कमेटी जीएसटी से जुडी उपभोक्ता की शिकायतों का निवारण करेगी। वहीँ हेल्प लाइनों की संख्या में बढ़ोत्तरी की जा रही है। अब तक जीएसटी से सम्बंधित 700 से ज्यादा सवाल उपभोक्ताओं की तरफ से पूछे गये हैं और इनके जवाब देने के लिए मंत्रालय वित्त विशेषज्ञों की सहायता ले रहा है। 

No comments:

Post a Comment