menubar

breaking news

Wednesday, July 19, 2017

सभी किसान कराएं आनलाइन पंजीकरण, बिना पंजीकरण के नहीं मिलेगा कोई लाभ

vijay pratap
जौनपुर। जिलाधिकारी सर्वज्ञराम मिश्र की अध्यक्षता में आज किसान दिवस का आयोजन कलेक्ट्रेट सभागार में किया गया। जिसमें भूमि संरक्षण अधिकारी प्रथम ओंकर सिंह ने जिले में खेत तालाब के निर्माण के बारें मे बताया।
उपनिदेशक कृषि जयप्रकाश ने बताया कि जिले में किसानो का मृदा परीक्षण कराया गया है जिसमें किसानों को मृदा स्वास्थ्य कार्ड रिपोर्ट दिया जा रहा है। किसान आनलाइन पंजीकरण कराकर लाभ उठाये बिना पंजीकरण के कोई लाभ नही मिलेगा। अधीक्षण अभियंता सिचाई एसके. सिंह ने बताया कि जिले के सभी नहरों की सफाई करायी जा रही है तथा ऊपर से जो भी पानी मिल रहा है उसे टेल तक पहुंचाने का प्रयास किया जा रहा है। एआर कापरेटिव गणेश गुप्ता ने बताया कि जिले में 3.36 लाख कुन्तल गेहॅू खरीदा गया है जिसका भुगतान ऑनलाइन किसानों के खातों में कर दिया गया है। मुख्य पशुचिकित्साधिकारी डा.वीरेन्द्र सिंह ने बताया कि पशुओं की बीमारी के लिए एपीएल के लिए 25 प्रतिशत जमा करना एवं बीपीएल परिवारों के लिए 10 प्रतिशत जमा कर जीवन बीमा करा सकते है। पशुओं के खान पान एवं वीमारी के बारे में बताया। कृषि विज्ञान केन्द्र समन्वयक वैज्ञानिक डा0 सुरेश कन्नौजिया ने किसानों के लिए विभिन्न लाभकारी योजनाओं के बारे में बताया जिसमे नीलगाय एवं अन्य जंगली पशुओं के बचाव के लिए पेड़ो पर क्लोन यूकोलिप्टस का बाड़ लगाये तथा 4 के बीच मे एक करौंदा का पौधा भी लगाए। 
डा. संदीप कुमार ने मशरूम, मधुमक्खी, पालन की जानकारी दी। जिला कृषि रक्षा अधिकारी आर के राय ने कृषि रक्षा अनुसंधान में डीबीसी योजना, कृषि रक्षा रसायनों को क्रय करने हेतु लागु है किसान भाई पूरा मुल्य देकर क्रय करेगेें उनके खाते में अनुदान प्रेषित किया जायेगा। स्प्रेयर मशीन पर्याप्त मात्रा में 50 प्रतिशत अनुदान दर पर उपलब्ध है। मुख्य राजस्व अधिकारी रामाश्रय सिंह ने शासन के निर्देशानुसार किसानो के लिए अपने विभागीय योजनाओं का लाभ शतप्रतिशत पहुंचाने का निर्देश दिया तथा किसान भाइयों से जैविक खाद का उपयोग करने की अपील किया। जिला कृषि अधिकारी ने बताया कि लघु सीमांत कृषकों के फसली ऋण माफी योजना में किसानों से अपील किया कि अपने बैंक खाता में आधार का अंकन करायें तथा खतौनी में भी नाम,पिता का नाम, मोबाइल नम्बर ठीक करायें। उन्होंने बताया कि शासन के निर्देशानुसार 22 जुलाई तक आधार एवं खतौनी में ठीक रहने वाले किसानों का नाम ऋण माफी के लिए प्रथम बार डाटा लॉक किया जायेगा। अन्य किसान भाइयों का भी अपना आधार एवं खतौनी ठीक होने पर दुबारा भेजा जायेगा। इस अवसर पर गन्ना अधिकारी हुदा सिद्दीकी, भूमि संरक्षण अधिकारी द्वितीय सुग्रीव प्रसाद वर्मा आदि उपस्थित रहे। 

No comments:

Post a Comment