menubar

breaking news

Saturday, July 8, 2017

आतंकी बुरहान वानी की बरसी पर घाटी में सुरक्षा के कड़े इंतजाम, लगाया गया कर्फ्यू

Tough situations in Kashmir valleyनई दिल्ली। आतंकी बुरहान वानी की पहली बरसी पर हिंसा की आशंका तथा अलगाववादियों के बंद के आह्वान पर घाटी में भारी फोर्स तैनाती की गई है। ग्रीष्मकालीन राजधानी श्रीनगर के साथ ही दक्षिणी कश्मीर के अनंतनाग और पुलवामा तथा उत्तरी कश्मीर के बारामुला जिले में धारा 144 लागू कर दी गई है।
किसी के भी बाहर निकलने तथा वाहनों के चलने पर पाबंदी रहेगी। हालांकि, आपात सेवा तथा कर्मचारियों को इस सेवा से मुक्त रखा गया है। हुर्रियत (जी) प्रमुख सैयद अली शाह गिलानी, हुर्रियत (एम) प्रमुख मीरवाइज उमर फारूक सहित सभी प्रमुख अलगाववादियों को नजरबंद रखा गया है।
अलगाववादियों के शनिवार को त्राल चलो आह्वान को देखते हुए बुरहान के पैतृक आवास त्राल को सील कर दिया गया है। बनिहाल से बारामुला के बीच ट्रेन सेवा स्थगित कर दी गई है। सोशल साइट्स को ब्लाक कर दिया गया है और हाई स्पीड इंटरनेट पर रोक लगा दी गई है। माहौल बिगाड़ने की साजिश के मद्देनजर शिक्षण संस्थानों को एहतियातन बंद कर दिया गया है।
इसके साथ ही पुलवामा जिले के बुरहान के गृहनगर त्राल में कर्फ्यू लगा दिया गया, यहां पुलवामा, कुलगाम, शोपियां और अनंतनाग जिले में कई जगह पर बुरहान के समर्थक सड़कों पर उतर आए थे, जिसके बाद प्रशासन ने त्राल में अनिश्चितकालीन कर्फ्यू लगाने का फैसला किया। 

No comments:

Post a Comment