menubar

breaking news

Sunday, July 2, 2017

केंद्र सरकार ने जीएसटी लागू होने से पहले से 1 लाख कंपनियों को किया डीलिस्ट

नई दिल्ली। जीएसटी के लागू होने के बाद पीएम नरेंद्र मोदी ने दिल्ली के इंदिरा गांधी स्टेडियम से देश की अर्थव्यवस्था को 'साफ और स्वच्छ' लिए जाने की अपील करते हुए काला धन रखने वाले और टैक्स चोरों को सख्त चेतावनी दी। काले धन को खत्म करने और पारदर्शी अर्थव्यवस्था को लागू करने की दिशा में सरकार की मंशा को जाहिर करते हुए मोदी ने कहा जब देश, मीडिया और कॉरपोरेट का पूरा ध्यान 30 जून की आधी रात को लागू होने जा रहे जीएसटी के कार्यक्रम पर था, तब केंद्र सरकार ने एक झटके में करीब 1 लाख कंपनियों को डीलिस्ट कर दिया।
इंस्टीट्यूट ऑफ चार्टर्ड अकाउंटेंट्स ऑफ इंडिया की स्थापना दिवस के मौके पर देश को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि वह देश में स्वच्छता अभियान के साथ ही अर्थव्यवस्था में सफाई अभियान चला रहे हैं।
पीएम मोदी ने कहा कि नोटबंदी के बाद करीब 3 लाख कंपनियां शक के दायरे में थी और इनमें से 1 लाख कंपनियों को रजिस्ट्रार ऑफ कंपनीज ने जीएसटी लागू होने से पहले बंद कर दिया।
अवैध लेन-देन के खिलाफ भविष्य में और अधिक सख्त कार्यवाही की चेतावनी देते हुए मोदी ने कहा कि राजनीति के हिसाब से चलने वाली सरकार इतना बड़ा फैसला लेने का साहस नहीं रखती बल्कि राष्ट्रहित से प्रेरित लोग ही ऐसा फैसला ले सकते हैं।
पीएम मोदी ने कहा कि उन्हें पता है फर्जी कंपनियों और हवाला में लेन-देन वाले करने वालों के खिलाफ कार्रवाई करने की क्या कीमत चुकानी होगी लेकिन मैं यह नुकसान उठाने के लिए तैयार हूं। उन्होंने कहा कि जिन्होंने गरीब को लूटा है, उन्हें पैसे लौटाने ही होंगे।

No comments:

Post a Comment