menubar

breaking news

Monday, July 10, 2017

जौनपुर में पं0 दीनदयाल उपाध्याय जन्म शताब्दी के संदर्भ में मेला प्रदर्शनी कार्यशाला का किया गया आयोजन

Displaying IMG-20170710-WA0005.jpgजौनपुर। जिलाधिकारी सर्वज्ञराम मिश्र के निर्देशानुसार जिले मे पं0 दीनदयाल उपाध्याय जन्म शताब्दी वर्ष के उपलक्ष्य में विकासखण्ड सोंधी सभागार में सूचना एवं जनसम्पर्क विभाग सहित विभिन्न विभागों द्वारा तीन दिवसीय मेला/प्रदर्शनी का आयोजन के प्रथम दिवस पर उप जिलाधिकारी शाहगंज जयनरायन सचान एवं खण्ड विकास अधिकारी रमाशंकर सिंह ने पं0 दीन दयाल उपाध्याय के चित्र पर माल्यार्पण कर प्रदर्शनी का शुभारम्भ किये। इस अवसर पर श्री सचान ने कहा कि इस प्रदर्शनी का मुख्य उद्देश्य सरकारी योजनाओं को जन-जन तक पहुंचाया जाना है। 
Displaying IMG-20170710-WA0011.jpgपं0 दीन दयाल उपाध्याय जी चाहते थे कि हमारे समाज का विकास हो और एकजुटता बनी रहे। राष्ट्रीय ग्रामींण आजीविका के तहत एक समूह खोला जाता है जिससे महिलाएं भी देश का आर्थिक विकास सुदृढ़ करने के लिए कटिवद्ध है। उन्होंने बताया कि स्वास्थ्य विभाग की टीम गांव-गांव जाकर बच्चों के स्वास्थ्य की जॉच कर रही है और आवश्यक सुविधाएं उपलब्ध करा रही है। जो लोग सरकारी नही है उनका भी नैतिक कर्तव्य बनता है कि लोगों को सरकार की योजनाओं की जानकारी दे व जागृत करें ताकि अधिक से अधिक लोग लाभान्वित हो सके। इन्हीं उददे्श्यों के लिए प्रदर्शनी/कार्यशाला का आयोजन किया जा रहा है। इस अवसर पर डॉ0 रमेशचन्द्र यादव तकनीकि सहायक ने लोगों को पं0 दीन दयाल जी के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि उनका जीवन एक सहज एवं कठिनाई से भरा हुआ था फिर भी वे अपने कार्य एवं मिशन से विमुख नही हुए।
Displaying IMG-20170710-WA0018.jpgउनका लक्ष्य था कि समाज के अंतिम पावदान पर खड़ा व्यक्ति का विकास हो। प्रदर्शनी में किसान भाईयों को उन्नतिशील खेती तथा आधुनिक यंत्रों के प्रयोग एवं पशुओं की सुरक्षा पशुधन बीमा योजना, पशुपालकों को भी मुआवजे के रूप में दी जाने वाली धनराशि ,फसल बीमा योजना आदि पर प्रकाश डाला गया। अन्त में खण्ड विकास अधिकारी सोधी(शाहगंज)रमाशंकर सिंह ने पं0 दीन दयाल उपाध्याय के जीवनवृत्त पर प्रकाश डाला और प्रर्दशनी के महत्व के बारे में लोगेा को जागृत किया। इस अवसर पर समाज कल्याण और महिला कल्याण, कृषि, उद्यान, गन्ना, पंचायत, कौशल विकास, आदि विभागों द्वारा प्रदर्शनी का आयोजन किया गया।

No comments:

Post a Comment