menubar

breaking news

Wednesday, June 14, 2017

राशन कार्ड सत्यापन कार्य में किसी प्रकार की गड़़बड़ी पाई गयी तो उसका सम्पूर्ण उत्तरदायी सत्यापनकर्मी होगा - डीएम

vptजौनपुर। मुख्य सचिव उ0प्र0 शासन के आदेशानुसार एवं जिलाधिकारी सर्वज्ञराम के निर्देशानुसार जिले में प्रचलित अन्त्योदय व पात्र गृहस्थी राशन कार्डों के सत्यापन हेतु जिलाधिकारी द्वारा विकास खण्डों में क्षेत्रीय ग्राम पंचायत अधिकारी/ग्राम विकास अधिकारी, लेखपालों व सम्बन्धित आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों की ड्यूटी लगायी गयी है। इस प्रकार नगर क्षेत्रों में राशन कार्ड के सत्यापन के लिए नगर पालिका परिषद/नगर पंचायत में कार्यरत कर्मचारियों व सम्बन्धित आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों की ड्यूटी लगायी गयी है। उक्त सत्यापन कर्मियों द्वारा राशन कार्ड की अपात्रता व पात्रता की जांच कर सम्पूर्ण कार्यवाही की जानी है। जनपद के कार्डधारकों से अपेक्षा है कि केवल पात्र होने की दशा में ही कार्ड का प्रयोग खाद्यान्न प्राप्ति हेतु करें, अपात्र होने की दशा में अपात्र राशन कार्ड तहसीलों के आपूर्ति कार्यालय या जिला पूर्ति कार्यालय में समर्पित करें, अन्यथा की स्थिति में उनके विरूद्ध प्रथम सूचना रिपोर्ट (एफ0आई0आर0) दर्ज कराते हुए बाजार मूल्य पर खाद्यान्न रिकवरी कराई जायेगी। शासन द्वारा निर्धारित किये गये पात्रता के मानक के अनुसार भिक्षावृत्ति करने वाले, घरेलू काम-काज करने वाले, जूते चप्पल की मरम्मत करने वाले, फेरी व खोमचे लगाने वाले, रिक्शा चालक, कुष्ठ रोग, कैंसर, एड्स से पीड़ित, अनाथ, माता-पिता विहीन बच्चें, कचरा ढोने वाले, स्वच्छकार, दैनिक वेतन भोगी मजदूर तथा कुली, पल्लेदार, (भूमिहीन मजदूरों के परिवार, गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाले परिवार, परित्यक्त महिलाएं, परिवार जिनका मुखिया निराश्रित महिला, विकलांग अथवा मांसिक रूप से विक्षिप्त व्यक्ति है एवं इस परिवार में कोई अन्य बालिग पुरूष नहीं है, आवासहीन परिवार एवं ऐसे परिवार जिनके स्वामित्व में 30 वर्ग मी0 क्षेत्रफल तक के ऐसे कच्चे आवास हों जो उनकी निजी भूमि पर हों तथा जिनमें वे स्वयं निवास करते हों,जिनका निर्धारित प्रारूप पर प्रमाण-पत्र उपलब्ध है, उन्हें अनिवार्य रूप से पात्र गृृहस्थी अन्तर्गत शामिल किया जायेगा)।
उन्होंने राशन कार्ड सत्यापन में लगाये कर्मियों से अपेक्षा किया है कि राशन कार्ड सत्यापन में निर्धारित मानक के अनुसार राशन कार्ड सत्यापन करते हुए अपात्रों का राशन कार्ड निरस्त किया जाये तथा उनके स्थान पर पात्र पाये जाने वाले परिवारों का चयन नियमानुसार कराते हुए उनका फार्म भरवाकर समस्त अभिलेखों के साथ तहसीलों के आपूर्ति कार्यालय व नगर क्षेत्र से सम्बन्धित सत्यापन कर्मी जिला पूर्ति कार्यालय में सम्पूर्ण विवरण उपलब्ध कराना सुनिश्चित करेंगे। उन्होंने सचेत किया कि राशन कार्ड सत्यापन कार्य में किसी प्रकार की गड़़बड़ी अथवा अपात्रों का चयन किया जाता है तो उसका सम्पूर्ण उत्तरदायी सत्यापनकर्मी पर निर्धारित किया जायेगा। उक्त जानकारी जिला पूर्ति अधिकारी अजय प्रताप सिंह ने दी है।

No comments:

Post a Comment