menubar

breaking news

Friday, June 9, 2017

14 वर्ष से कम उम्र के बच्चे श्रम करते पाये गये तो मालिक पर लगेगा आर्थिक दण्ड

14 वर्ष के काम उम्र के बच्चे श्रम करते पाये गये तो मालिक पर लगेगा 20 हजार का जुर्माना
जौनपुर। जनपदीय बालश्रम उन्मूलन समिति की बैठक जिलाधिकारी सर्वज्ञराम मिश्र की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में सम्पन्न हुई। बैठक में  सहायक श्रमायुक्त बी.एन. दुबे ने बताया कि 14 वर्ष से कम उम्र के बालक बालश्रम करते हुए पाया जायेगा तो मालिक के ऊपर कम से कम रू0 20 हजार जुर्माना एवं दो वर्ष की सजा का प्राविधान है। उन्होंने बताया कि श्रम विश्रााग, पुलिस प्रशासन के सहयोग से अभियान चलाकर बालश्रम उन्मूलन की कार्यवाही के तहत सात बच्चों को चिन्हित कर उनके मालिक के विरूद्ध वसूली एवं वैधानिक कार्यवाही कराई गयी है। साथ ही उनके पुनर्वासन के लिए सीडीओ के यहा भेज दिया गया है। जिले में बाल सुधार गृह न होने के कारण बाल श्रमिकों को एक दिन में ही सीएमओ से जॉच कराकर उनके अभिभावक को देने का प्रयास किया जा रहा है।
पुलिस अधीक्षक शैलेष कुमार पाण्डेय ने बाल मजदूरों का शोषण किसी भी दशा में नही होना चाहिए इसके लिए पुलिस एवं प्रशासन की संयुक्त टीम द्वारा जॉचकर कार्यवाही की जानी चाहिए। उन्होंने बताया कि स्माइल आपरेशन बिछड़ गये बच्चों एवं घर वालों से प्रताड़ित होने के कारण बाहर जाते हैं उन्हें रोटी-रोजी-भोजन वस्त्र के लिए बाल श्रमिक के रूप में इस्तेमाल होते है। महानगरों में अनैतिक रूप से दुरूपयोग भी किया जाता है। सर्वेक्षण करने वाले के साथ सहयोग देकर सही-सही जानकारी प्राप्त की जा सकती है। देश का भविष्य इन नौनिहालों पर निर्भर करता है इन्हें स्वास्थ्य, शिक्षा एवं रोजगार उपलब्ध कराकर देश की धारा में लाया जा सकता है। 
जिलाधिकारी ने स्वयंसेवी संस्थाओं से अपील किया कि सर्वेक्षण के दौरान अधिकारियों एवं आपके सहयोग से बाल श्रमिकों की सही-सही जानकारी प्राप्त किया जाय। उन्होंने बताया कि यूनीसेफ की मदद से ह्यूमन लिवर्टी संस्था द्वारा जिले के 13 ब्लाकों में सर्वेक्षण कर जिले में अधिक बाल श्रमिक होने की जानकारी दी । हमें इस धब्बे को मिटाना है। जिलाधिकारी ने बाल श्रमिकों की सूची उपलब्ध कराने का अनुरोध किया जिससे नियमानुसार कार्यवाही कराई जा सके। उन्होंने होटल/ढ़ाबे/गैराज आदि में नियमित जॉच कराने का, जागरूकता फैलाने, शिक्षा के लिए बीएसए तथा रोजगार के लिए सीडीओ को निर्देशित किया।  इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी द्वय आरपी मिश्र, रामआसरे, अपर पुलिस अधीक्षक देहात संजय राय, डीडीओ दयाराम, प्रोबेशन अधिकारी राजेश सोनकर, समाज कल्याण अधिकारी केएन तिवारी, खण्ड शिक्षा अधिकारी रमाकान्त, डिप्टी सीएमओ एसके यादव, पूर्व बाल न्यायाधीश संजय उपाध्याय, बाल कल्याण समित के अध्यक्ष अनिल कुमार यादव, सदस्य आनन्द प्रेमधन, सुभाष चन्द्र मिश्र, ममता श्रीवास्तव, धनन्जय कुमार सिंह, श्रम निरीक्षक एवं एवं विभाग के अन्य कर्मचारीगण उपस्थित रहे।

No comments:

Post a Comment