menubar

breaking news

Thursday, May 11, 2017

नसीमुद्दीन बहुत बड़ा ब्लैकमेलर, मैंने पार्टी मेंबरशिप सामग्री का हिसाब-किताब मांगा - मायावती

Image result for images of mayawatiलखनऊ। नसीमुद्दीन स‌िद्दीकी के प्रेस कॉफ्रेंस के बाद बसपा सुप्रीमो मायावती ने उन पर पलटवार करते हुए प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान उन्होंने कहा कि मैंने इस चुनाव का रिजल्ट आने के बाद अपनी जिम्मेदारी को निभाते हुए मैंने सोचा क‌ि ईवीएम के साथ, पार्टी के जिन वरिष्ठ लोगों को मैंने जिम्मेदारी दी थी उनको लेकर भी समीक्षा कर लूं।
चुनाव का नतीजा आने के बाद कुछ साथी लोगों ने कहा कि बहन जी हम आपसे बात करना चाहते हैं क‌ि बहन जी जिनको आपने हमारे ऊपर बैठाया है इनको अगर आप अलग नहीं करेंगी तो पार्टी पीछे चली जाएगी। मायावती ने कहा, नसीमुद्दीन को हटाने के बाद सबसे ज्यादा फोन मुस्ल‌िमों के आए क‌ि ये जैमर था जो हट गया। मुस्ल‌िमों ने कहा क‌ि ये हमें आगे नहीं आने दे रहा था।
लोगों ने बताया क‌ि नसीमुद्दीन बहुत बड़ा ब्लैकमेलर है, वह धंधा करता है और पैसे कमाता है। ये टेप के जर‌िए लोगों से उगाही करता रहा।
मुझे लगा क‌ि हमारे लोग ऐसी बातें मुझे क्यों बोल रहे हैं। आज मुझे पता चला क‌ि ये लोग ऐसे क्यों बोलते थे।
मायावती ने बताया कि मैंने नसीमुद्दीन से पार्टी मेंबरशिप सामग्री का हिसाब-किताब मांगा था लेकिन उन्होंने नहीं दिया।
मायावती ने नसीमुद्दीन को महासचिव पद से हटाये जाने पर कहा कि यूपी चुनाव में सही जिम्मेदारी न‌ निभाने के कारण मैंने उन्हें यूपी से हटाया। उन्होंने नसीमुद्दीन द्वारा मीडिया में सुनाए गए टेप के बारे में कहा कि इसमें सिर्फ अपने मतलब की बातें सुनाई गई हैं। इसमें काट-छांट की गई हैं। मैं ये सब सुनकर आ रही हूं। आप सब जानते हैं क‌ि मैं मेंबरशिप की किताबों के ल‌िए पैसे खुले तौर पर मांगती हूं।
उन्हें निकालने की वजह ये थी क‌ि मेंबरशिप का आधा पैसा उसने जमा किया आधा खा गए। लोगों ने कहा वो पैसा दे चुके हैं। वो ठीक से हिसाब-किताब नहीं दे रहे थे। मैं पार्टी का पैसा खाने नहीं दूंगी क्योंक‌ि ये गरीबों का पैसा है।
और भी कारण थे जिनमें पार्टी में अनुशासनहीनता थी। कई लोगों ने कहा था क‌ि हमें नसीमुद्दीन नहीं चाह‌िए। जिम्मेदारी पूरी न करने पर मैंने नसीमुद्दीन को हटाया। उन्होंने बसपा की मुहिम को नुकसान पहुंचाया। कई बार बुलाने पर ये नहीं आए क्योंक‌ि दाल में काला था। नसीम बार-बार मेरे भाई के बारे में थर्ड क्लास थे फोर्थ क्लास थे कह देते हैं उन्हें पता होना चाह‌िए क‌ि अंबानी का बैकग्राउंड क्या है।
नसीमुद्दीन ने मुस्लिमों के ल‌िए जो भाषा बोली वो मैं इस्तेमाल नहीं कर सकती। मुझे पता है मुस्ल‌िम समाज के लोग नसीमुद्दीन को माफ नहीं करेगा।
मायावती ने कहा, मुझे आज पहली बार पता चला क‌ि इनकी एक लड़की भी थी। इसने सभी से कह रखा है क‌ि मेरे कोई बेटी नहीं है। कल प्रेस नोट में कहा क‌ि मायावती की वजह से बेटी मर गई।

No comments:

Post a Comment