menubar

breaking news

Sunday, April 23, 2017

10 लाख से ज्यादा लोगों के आधार नंबर लीक, पढ़ें पूरी खबर !

झारखंड। 10 लाख से ज्यादा लोगों के आधार नंबर लीक होने का मामला प्रकाश में आया है।
सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार झारखंड डायरेक्ट्रेट ऑफ सोशल सिक्योरिटी की वेबसाइट में एक प्रोग्रामिंग एरर होने के कारण झारखंड ओल्ड एज पेंशन स्कीम के लाखों लाभार्थियों के नाम, पता, आधार नंबर और बैंक अकाउंट की जानकारियां लीक हो गई हैं
सूत्रों की मानें तो झारखंड में 16 लाख से ज्यादा पेंशनर्स हैं, जिनमें से करीब 14 लाख ने अपने आधार नंबर को बैंक खाते से जोड़ रखा है। वहीं अब इन सभी की निजी जानकारियां वेबसाइट पर लॉग इन कर कोई भी देख सकता है।
ऑथोरिटी ने पिछले महीने कम से कम आठ पुलिस शिकायतें दर्ज कराई हैं। इसमें निजी पार्टियों पर गैरकानूनी तरीके से नागरिकों के आधार संख्या एकत्रित' करने का आरोप है।
इस समय केंद्र सरकार ने सभी मूलभूत आवश्यकताओं के लिए आधार कॉर्ड को अनिवार्य कर दिया है, ऐसे में इस तरह की घटनाएं सामने आना अपने आप में ही हैरान कर देने वाली हैं। हालांकि सुप्रीम कोर्ट से लेकर साइबर सिक्योरिटी एक्सपर्ट और विपक्षी पार्टी तक को ये फॉर्मूला रास नहीं आया है।
बता दें कि ऐसा पहली बार नहीं है, जब आधार कार्ड से जुड़ी जानकारी ऑनलाइन लीक हुई है। इससे पहले एक आधार सर्विस प्रोवाइडर ने महेंद्र सिंह धोनी का आधार नंबर प्रकाशित कर दिया था, जिससे उनकी सभी डिटेल्स वायरल हो गई थी।
इस घटना के बाद से आधार सर्विस प्रोवाइडर को 10 साल के लिए ब्लैकलिस्ट कर दिया था।

No comments:

Post a Comment