menubar

breaking news

Saturday, April 15, 2017

जौनपुर के 109 नगर क्षेत्र की दुकानों में प्वाईण्ट आफ सेल डिवाइस की होगी स्थापना

vijay newजौनपुर। जिला पूर्ति अधिकारी राकेश तिवारी ने बताया कि सार्वजनिक वितरण प्रणाली को पारदर्शी एवं जनोन्मुखी बनाने के जनपद के 109 नगर क्षेत्र की उचितदर की दुकानों में प्वाईण्ट आफ सेल डिवाइस की स्थापना की जा रही है। इसके लिए जनपद के कलक्ट्रेट स्थित प्रेक्षागृह में सर्विस प्रदाता कम्पनी ओएसिस साईबर नेटिक्स द्वारा नगर क्षेत्र के उचितदर विक्रेताओं को प्वाईण्ट आफ सेल डिवाइस को संचालित करने के लिए प्रशिक्षण दिया गया। प्वाईण्ट आफ सेल डिवाईस खाद्य तथा रदस विभाग के केन्द्रीय सर्वर से कनेेक्टेड है तथा उसमे सम्बन्धित उचितदर की दुकान के एन.एफ.एस.ए. के लाभार्थियों का सम्पूर्ण डेटा बेस संरक्षित है। यह मशीन आधार, ओ.टी.पी. तथा राशन कार्ड नम्बर के प्रमाणीकरण के द्वारा काम करेगी। प्रथम चरण में राशन कार्ड नम्बर को प्रमाणीकरण का मानक बनाया गया है। खाद्य तथा रसद विभाग द्वारा निर्देश प्राप्त होने के बाद द्वितीय चरण में आधार एवं ओ.टी.पी. को राशन कार्ड के नम्बर की जगह प्रमाणीकरण का आधार बना लिया जायेगा। इस व्यवस्था से कोई भी कार्डधारक केवल अपना अंगूठा मशीन पर लगाकर गल्ला प्राप्त कर सकेगा। इससे एक तरफ खाद्यान्न की कालाबाजारी की सम्भावना निर्मूल होगी तो दूसरी तरफ हस्त लिखित अभिलेखों के रख रखाव से भी मुक्ति मिलेगी। मशीन के माध्यम से वितरण की दशा में उचितदर विक्रेता मासान्त में वितरण से शेष खाद्यान्न का फर्जी वितरण दिखाकर उसका दुरूपयोग नही कर पायेगा परन्तु अभी अगले तीन माह सभी उचितदर विक्रेताओं को निर्देशित किया गया है कि वे प्वाइण्ट आफ सेल डिवाइस के साथ-साथ हस्त लिखित वितरण पंजिका भी पूर्व की भाति अनुरक्षित करेंगे। द्वितीय चरण में यह आवश्यक है कि सभी लाभार्थियों के आधार कार्ड एवं मोबाइल  नम्बर उनके राशन कार्ड से जुड़ा हो। जिन लाभार्थियों के आधार कार्ड उनके राशन कार्ड से लिंक नही है वे लाभार्थी जिला पूर्ति कार्यालय तहसील स्थित आपूर्ति कार्यालय में क्षेत्रीय खाद्य अधिकारी एवं पूर्ति निरीक्षक से सम्पर्क कर अपना आधार कार्ड नम्बर दर्ज करा सकते है। अवधेय है कि जनपद में अभियान चलाकर राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा की पात्रता सूची से अपात्र लाभार्थियों के नाम निरस्त कर वेबसाइट से हटाया गया था तथा उनके स्थान पर नये लाभार्थियो का चयन किया गया था माह नवम्बर दिसम्बर-2016 में लाभार्थियों के चयन की कार्यवाही पूर्ण कर सफलता पूर्वक विभागीय बेवसाइट पर फीड़ करा दिया गया था परन्तु इन लाभार्थियों को आवंटन प्राप्त नही हुआ था। शासन द्वारा अब 13 अप्रैल 2017 तक विभागीय बेवसाइट पर प्रदर्शित 125472 अन्त्योदय एवं 613170 पात्र गृहस्थी परिवारों को खाद्यान्न आवंटित कर दिया गया है। उल्लेखनीय है कि अन्त्योदय परिवारों को प्रतिमाह 35 किग्रा एवं पात्र गृहस्थी परिवारांे को प्रति यूनिट 3 किग्रा गेहूॅ एवं 2 किग्रा चावल का वितरण क्रमशः 2 व 3 रू0 प्रति किलोग्राम की दर से कराये जाने का निर्देश है। 
शासन द्वारा वित्तीय वर्ष में प्रथम त्रैमास (अप्रैल, मई, जून) के लिए मिट्टी तेल का आवंटन जारी कर दिया गया है आवंटन आदेश के अनुसार अन्त्योदय लाभार्थियों को 4 लीटर एवं पात्र गृहस्थी परिवारों को 2 लीटर प्रति कार्ड मिट्टी तेल बाटे जाने का निर्देश है शासन द्वारा जनपद के लिए प्रथम त्रैमास हेतु 1740 लीटर मिट्टी तेल का अवंटन दिया गया है यदि किसी लाभार्थी को आवश्य वस्तु प्राप्त करने में असुविधा हो तो अपने क्षेत्रीय पूर्ति निरीक्षक सहायक विकास अधिकारी पंचायत, खण्ड विकास अधिकारी एवं उपजिलाधिकारी एवं जिला पूर्ति अधिकारी से शिकायत कर सकता है। 

No comments:

Post a Comment